Business Management

Standard operating procedure in Hindi ( मानक संचालन प्रक्रिया क्या है ?)

Standard operating procedure in Hindi
Written by maxinvention

यह article हमे standard operating procedure in Hindi ( मानक संचालन प्रक्रिया क्या है ? ) के बारे में बताएगा। यह बताएगा What is standard operating procedure in Hindi ( मानक संचालन प्रक्रिया क्या है?)  Necessity of standard operating procedure in Hindi  ( मानक संचालन प्रक्रिया का महत्व) और  standard operating procedure steps in Hindi ( मानक संचालन प्रक्रिया के स्टेप)

Also Read – What is Integrity in Hindi (इंटीग्रिटी क्या है ?) 

What is Standard operating procedure in Hindi ( मानक संचालन प्रक्रिया क्या है ?)

Standard Operating Procedure (SOP) एक organisation के द्वारा properly step by step निर्देशों का एक group है जो employees को proper संचालन में मदद करता है। SOP का target efficiency, Quality output और Performance of uniformity प्राप्त करना है जबकि उद्योग के नियमों के अनुपालन में miscommunication और Failure को कम करना है।

Types of Standard operating procedure in Hindi  ( मानक संचालन प्रक्रिया के प्रकार)

1. Checklists

एक checklist सबसे easy तरीका होता है एक SOP बनाने का। एक SOP को ऑनलाइन note taking app से तैयार किया जा सकता है जिसे की bit या print out निकाल कर employees को भी दे सकते है। जैसे हम header बनाते है उतना ही आसान एक checklist को बनाना भी है।

2. Step-by-Step List

checklists की तरह एक step-by-step bullet भी उसी तरह use में आता है जैसे की हम एक procedure को explain करते हैं।
एक employee tasks की list तैयार करता है जो आप सीधे SOP के लिए बना रहे है। ये list नौकरी पाने के लिए enough है।

3. Hierarchical Lists

अगर आपकी process ज्यादा complex है और ज्यादा info की need है तो आप hierarchical checklists या bullet lists बना सकते है। अगर आप किसी काम को एक बार में elaborate नही कर पा रहे है तो SOP को ज्यादा लंबा न करे इसमें hierarchical steps फायदेमंद साबित सो सकते है।

Importance of standard operating procedure in Hindi ( मानक संचालन प्रक्रिया की जरूरत)

1. Gives Consistency
कही एक SOP होने से यह decide होता है कि चाहे जो भी काम कर रहा है business processes को सही तरीके से पूरा किया जा रहा है।

2.Saves Time and Money
जब एक task कई तरीकों से complete किया जाता है तो इसे पूरा होने में हमेशा ज्यादा टाइम लग जाता है। जगह में एक SOP होने से यह process अच्छी हो जाती है ताकि employees कम time में ज्यादा काम कर सकें।

3.Improves Communication
SOP आपके employees की naukri को easy बना देती हैं क्योंकि अब उन्हें यह assume करने की ज़रूरत नहीं है कि उन्हें अपनी नौकरी कैसे करनी चाहिए और उन्हें यह याद रखने की कोशिश नहीं करनी चाहिए कि जब उन्होंने पहली बार काम पर रखा था तो उन्हें याद करने के लिए अपने दिमाग को rack करने की कोशिश करें।

4. Allows you to hold your employees accountable
अगर आप written standard नहीं रखते हैं तो आप अपने workers evaluation कैसे कर सकते हैं? SOP के बिना worker evaluation व्यक्तिगत राय का subject बन जाता है जो शायद ही आपके workers के लिए ठीक है।

5.Creates a safer work environment
जब employees पूरी तरह से अलग-अलग तरीकों से एक ही काम करते हैं तो यह न केवल unsufficient है बल्कि यह सच में आपके business के लिए ठीक नहीं है। SOP यह सुनिश्चित करती है कि कर्मचारी अपने काम को safe और सुसंगत तरीके से करें।

Steps for Writing a Standard Operating Procedure in Hindi ( मानक संचालन प्रक्रिया के स्टेप)

Step 1: Understand how you are going to present your SOPs

Step 2: Gather the relevant stakeholders

Step 3: Work out your purpose

Step 4: Determine the structure of your SOP

Step 5: Prepare the scope of the procedure

Step 6: Use a consistent style

Step 7: Use correct notation, if applicable

Step 8: Work out all the necessary steps of the process

Step 9: Try to assess potential problems in the process

Step 10: Determine metrics against which the SOPs can be judged

Step 11: Test the process

Step 12: Send the process to superiors

Step 13: Clarify the method of optimizing the process

Step 14: Run a risk assessment on your process

Step 15: Consider creating a flow diagram

Step 16: Finalize and implement the SOPS

About the author

maxinvention

1 Comment

Leave a Comment