Business Studies

Organizational Conflict in Hindi (संगठनात्मक संघर्ष)

Organizational Conflict in Hindi
Written by maxinvention

इस Article में हम Organizational Conflict in Hindi ( संगठनात्मक संघर्ष ) के बारे में पढ़ेंगे। जिसमे पढ़ेंगे What is Organizational Conflict in Hindi (संगठनात्मक संघर्ष क्या है ?), Types of Organizational Conflict in Hindi (Organizational Conflict के प्रकार ), Reasons for Organizational Conflict in Hindi (संगठनात्मक संघर्ष के कारण ) आदि।

What is Organizational Conflict in Hindi ?

Organizational conflict को workplace conflict के रूप में जाना जाता है। organization के members के बीच needs, believes, resources और relations के वास्तविक या कथित असंतोष के result स्वरूप disagreed या misunderstanding की condition के रूप में वर्णित है। workplace पे जब भी दो या दो से अधिक व्यक्ति आपस में बातचीत करते हैं। तब टकराव होता है जब किसी कार्य या निर्णय के संबंध में राय विरोधाभासी होती है। इसे Organizational Conflict कहा जाता है।

सरल शब्दों मे organizational conflict मानव अंतःक्रिया के result की ओर संकेत करता है जो तब शुरू होता है जब organization का एक member यह समझता है कि उसके goals, values या दृष्टिकोण organization के अन्य members के साथ असंगत हैं। विचारों में असंगति एक member के भीतर, दो members के बीच या organization के समूहों के बीच अस्तित्व में आ सकती है।

Factors affecting organizational conflict in Hindi

यहाँ पे उन कारको के बारे में जानेगे। जिनसे Organizational Conflict उत्पन्न होता है।

vague accountability (अस्पष्ट उत्तरदायित्व)

यदि किसी कार्य या परियोजना के किस भाग के लिए कौन responsible है, इस बारे में स्पष्टता की कमी है तो conflict होता है। और इस condition से बचने के लिए टीम के members की भूमिका और responsibility स्पष्ट रूप से बताई जानी चाहिए और सभी की agree भी होनी चाहिए।

Interpersonal relationships ( पारस्परिक संबंध):

एक organization के प्रत्येक member का व्यक्तित्व अलग होता है जो एक organization में conflict को हल करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। workplace पर conflict अक्सर organization के members के बीच पारस्परिक मुद्दों के कारण होता है।

Lack of resources (resources की कमी)

किसी organization में conflict की घटना का एक मुख्य कारण time, money, material आदि जैसे resources की अपर्याप्तता है, जिसके कारण organization के member एक दूसरे के साथ प्रतिस्पर्धा करते हैं, जिससे उनके बीच conflict होता है।

Types of organizational conflict in Hindi

1.  Conflicts of interest (हितों का टकराव)

जब व्यक्ति के व्यक्तिगत goals और organization के goals के बीच एक भटकाव होता है, तो हितों का टकराव पैदा होता है, क्योंकि व्यक्ति अपने व्यक्तिगत goals के लिए लड़ सकता है, जो परियोजना की समग्र सफलता में बाधा डालता है।

2. Relationship conflict (संबंध संघर्ष)

कर्मचारियों के बीच पारस्परिक तनाव से उत्पन्न conflict, जो आंतरिक रूप से relations से संबंधित है, न कि परियोजना से संबंधित है।

3. Work conflict (कार्य संघर्ष)

जब कार्य की प्रकृति के संबंध में members के बीच कोई विवाद होता है, तो work conflict होता है।

4. process conflict (प्रक्रिया संघर्ष)

टीम के members के बीच विचारों में अंतर के कारण, काम कैसे पूरा किया जाना चाहिए, इसे process conflict कहा जाता है।

Reasons for organizational conflict in Hindi

अब यहाँ पे हम Organizational Conflict के कारणों के बारे में जानेगे।

Managerial requirements (प्रबंधकीय अपेक्षाएँ)

प्रत्येक कर्मचारी से अपने वरिष्ठ द्वारा लगाए गए goals को पूरा करने की अपेक्षा की जाती है और जब इन अपेक्षाओं को गलत समझा जाता है या निर्धारित time के भीतर पूरा नहीं किया जाता है, तो conflict उत्पन्न होता है।

Communication disruption (संचार व्यवधान)

Workplace पर conflict का एक प्रमुख कारण communication में व्यवधान है, अर्थात यदि एक worker को दूसरे से कुछ जानकारी की आवश्यकता होती है, जो ठीक से प्रतिक्रिया नहीं देता है, तो organization में conflict की चिंगारी निकलती है।

Wrong perception (गलतफहमी)

सूचना की miss understanding, organization में विवाद को भी कम कर सकती है, इस अर्थ में कि यदि कोई व्यक्ति किसी जानकारी का गलत अर्थ निकालता है, तो यह conflictों की श्रृंखला को जन्म दे सकता है।

Lack of accountability (जवाबदेही की कमी)

यदि किसी परियोजना में, responsibilities स्पष्ट नहीं हैं और कोई गलती उत्पन्न हो गई है, जिसकी responsibility टीम का कोई भी member नहीं लेना चाहता है, तो वह भी organization में conflict का कारण बन सकता है।

Ways to stop Organizational conflicts in Hindi

संगठनात्मक  संघर्ष को प्रबंधित करने के तरीके

1. conflict को positive रूप से संभालें।
2. सभी members के लिए आधिकारिक शिकायत प्रक्रिया का गठन।
3. Organizational conflict का आकलन करने के लिए उनके पeffect के बजाय factors पर ध्यान केंद्रित करें।
4.  conflict के पक्षकारों को उनकी condition, पद या political प्रभाव के बावजूद एक समान आवाज दी जानी चाहिए।
5. Organizational conflict के सभी पक्षों की सक्रिय भागीदारी भी इसका मुकाबला करने में मदद कर सकती है।

Other Tutorial

  1. Brainstorming in Hindi (Brainstorming क्या है ?)
  2. Committee in Hindi – What is committee in Hindi
  3. Seminar in Hindi (Seminar क्या है ? )

About the author

maxinvention

Leave a Comment